Rajasthan’s Bhangarh Fort story in Hindi Incidents, Ghost videos, History

By | September 14, 2017

आज के इस bhangarh fort story in Hindi पोस्ट में हम भानगड किले के बारे में जानेंगे। आपको बताते की ये India’s Most Haunted Places में से सबसे ऊपर है तथा इसकी गिनती world’s most haunted place में भी होती है| अगर आपको दुनिया के सबसे डरावाने स्थानों को देखना है तो आपको यहाँ भी आना होगा।

Rajasthan most haunted place bhangarh fort वास्तव में एक बहुत ही डरावना स्थान है जहा पर आज तक कोई भी बंदा एक रात से ज्यादा ठहर नहीं पाया है तथा यहाँ पर रात को नहीं ठहरने तथा किले से दूर रहने के बोर्ड भी लगे हुए है। यहाँ ऐसी ऐसी आवाजे आती है जिनको सुनते ही रूह कापने लग जाती है।

Bhangarh Fort

भानगढ़ राजस्थान के जयपुर शहर के पास स्थित अलवर जिले में तिन पहाडियों से घिरा एक किला है जिसका निर्माण जयपुर अमर के महाराजो ने किया था। ये राजा मान सिंह प्रथम ने 1613 AD में बनवाया था तथा सुरक्षा के हिसाब से ये वास्तव में बहुत ही सुरक्षित था। पहले ये किला बहुत ही समृद्ध था लेकिन बाद में किसि तर्न्त्रिक के श्राप के कारण इनमें रहने वाले सभी सदस्य तथा जनता किसिस करनवश मर गए तथा बचे जो मौत के डर से किला छोड़कर भाग गए।

इनमें रहने वाले लोगो की आकस्मिक मौत और तांत्रिक के श्राप के कारण इसमें रहने मरने वाले लोगी की रूह आअज भी वाही भटक रही है जिसके कारण ये दुनिया का सबसे डरावना स्थान कहलाता है। आज यहाँ के bhangarh fort incidents तथा bhangarh fort ghost videos काफी पोपुलार है और काफी लोग यहाँ के बारे में जानने के इच्छुक रहते है| चलिए पडते है bhangarh fort at night के अनुभव तथा इस alwar fort से जुड़े और भी कही रोचक बाते ।

bhangarh fort

Bhangarh fort History

Bhangarh Fort का निर्माण राजा मान सिंह प्रथम ने 1613 AD में करवाया था, इस किले का नाम भान सिंह के नाम पर किया गया है जो माधोसिह के पितामह थे|  माधौसिंह के बाद उनका पुत्र छत्र सिंह उनके स्थान पर गद्दी पर बैठा।ये तिन ओर पहाडियों से घिरा हुआ किला है जो सरिस्का अम्ब्यारण से काफी नजदीक है| राजा माधो सिंह जिन्होंने इस किले का निर्माण करवाया था वो उस समय अकबर सेना के जनरल के पद पे थे|

इस किले के निर्माण सामग्री में पत्थर और ईंट का प्रयोग हुआ था| इस किले के पांच द्वार है तथा एक मुक्य दीवार है जो किले की सुरक्षा के हिसाब से काफी सुरक्षित है|  इसमें महल दरबार के अलावा भगवान शिव, हनुमान आदि के मंदिर भी है | इसमें पत्थरों पर उत्तम शिल्‍पकला का प्रयोग किया गया है|

Bhangarh fort story in Hindi

वेसे तो राजस्थान में किलो की कोई कमी नहीं है यहाँ पर हर 50 किलोमीटर पर एक किला है और कुछ किले जेसे चित्तोड़, जोधपुर, आमेर आदि काफी बहुत ही पोपुलार है तथा इनके सुरवीर Maharana Pratap जिनका नाम ही काफी hई वो इस धरा पर अवतरित हुए है| | इन सब का पाना एक एतिहासिक महत्व है लेकिन एक किला जो भानगढ़ जिसकी अपनी भुतहा कहानी के कारण ये काफी मसहुर है|

पहले ये किला काफी समृद्ध किला था, लगभग 300 साल तक ये खूब फला फुला था लेकिन एक बार एक ऐसी घटना घटित हुए तबसे इसकी काया ही पलट गयी और मनुष्यों के स्थान पर ये भुत प्रेतों का किला बन गया था| माना जाता है की इस किले की रजकुमारी रत्नावती दिखने में बहुत ही शुन्दर थी और उसके चर्चे उस समय हर जगहा चल रहे थे|

bhangarh fort story

bhangarh fort राजकुमारी रत्नावती

एक दिन राजकुमारी रत्नावती बाजार में एक इत्र की दूकान पर इत्र देख रही थी तथा उसकी खुसबू देख ले रही थी| उसी समय उस दुकान के पास सिंधु सेवड़ा नामक व्यक्ति खड़ा था जो बहुत ही बड़ा तांत्रिक था | देखते ही देखते राजकुमारी का रूप उसके मन को भा गया और उसको उसे पाने की बहुत हु तिर्व इच्छा हो गयी|

उस जादूगर ने एक जादू किया और जिस इत्र की बोतल को राजकुमारी ने पसंद किया था उस इत्र की बोतल पर उसने जादू कर दिया था अगर वो इत्र राजकुमारी लगाती तो वो उसके प्रेम की दीवानी हो जाती और उसको विवाह के लिए मजबूर होना पड़ता था|

लेकिन उस तांत्रिक की करतूत को उस दूकान मालिक ने भाप लिया था उसने सब बात राजकुमारी को बता दी, तभी राजकुमारी ने वो इत्र की सीसी को पत्थर पर घिरा दिया और वो टूट गयी तथा उसमे जो इत्र था वो उस पत्थर पर घिर गया| जेसे ही इत्र पत्थर पे घिरा वो जादू के कारण वो पत्थर तांत्रिक का दीवाना हो गया और उसके पीछे लुडकने लगा, तभी तांत्रिक वहा से भागा तब तक पत्थर उसके ऊपर आ गया और वो मर गया|

राजकुमारी रत्नावती bhangarh fort

Bhangarh fort haunted stories in hindi

लेकिन मरते वक्त वो श्राप दे गया की इस किले में जो भी है वो सब मरे जायेंगे और बाद में कभी जन्म नहीं लेंगे और उसकी रूह किले में ऐसे ही भटकती रहेगी तथा उनको कभी मोक्ष नहीं मिलेगा| उसके कुछ समय बाद ही वहा के वहा के राजा भाइयो में आपस में लडाई हुए और युद्ध हुआ, सभी आपस में लड़ लड़ कर मर गए और जो थोड़े बहुत बचे सब भाग गए|

तब से उन सभी दरबारियों और कुच्छ के लोगो की आत्न्माये अभी तक वहा भटक रही है | उसके बाद से ये किला खली ही पडा है और बाद में किसी महाराज ने वहा पुन रहने आदि की इच्छा ही नहीं की| उसके बाद ये bhangarh most haunted place in India बन गया है|

किलें में सूर्यास्त के बाद प्रवेश निषेध (Entrance Prohibited after Sunset) :

वर्तमान में ये किला भारतीय सरकार तथा भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के अधीन है, यहाँ पर सुरक्षा के लिये आर्कियोंलाजिकल सर्वे आफ इंडिया (एएसआई) की टीम राखी गयी है तथा किले के अन्दर जगह जगह ये बोर्ड भी लगे हुए है की रात के समय में यहाँ पप्रवेश निषेध है|

दूसरी एक बात और भी घोर करने लायक है की यहाँ जो भी एएसआई के ऑफिस बने हुए है वो किले के परकोटे से काफी दूर बने हुए है जो आमतौर पर किसी भी किले में नहीं होता| इस किले में रात रुकने की हिम्मत आजतक किसि ने नहीं की जो भी रुकता है वो रात की कहानी कहने लायक नहीं रहता|

भारतीय सेना भानगढ़ किले में 

गोरतलब है की एक बार सरकार ने लोगो के मन से दर दूर करने के लियुए एक सेना की 20 सदस्य की टुकड़ी वहा रुकवाई | सेना रात के समय में वहा तेत में रहने लगी लेकिन वहा पर कुछ अजीब अजीब से हादसे होने लगे जिससे तीसरी रात ही सेना को वहा से वापिस जाना पड़ा और रात को ही उन्होंने किला छोड़कर बहार आना पड़ा|

Bhangarh fort at night

वेसे तो bhangarh fort at night को विजिट करना पूर्णतया मना है लेकिन कुछ लोग यहाँ गए है और जिन्होंने यहाँ रात बिताई है उनका मानना है की यहाँ कुछ अजीब अजीब आवाजे आती है| ऐसा लगता है की औरते हस रही है बाते कर रही है लेकिन कुछ देर बाद तलवारों के टकराने तथा लोगो के रोने की आवाजे आने लग जाती है|

आवाजे भी इस तरहा आती है की सुन रहा खड़ा व्यक्ति ये पता नहीं कर पाटा की आवाज कहा से आ रही है| कभी घुंगरू हमारे पास खनकता है लेकिन जब तक हम उसपे ध्यान दे तब तक वो हमसे बहुत दूर खनकता हुआ सुनाई देता है| रात के समय में वहा का एक अलग सा ही माहोल बन जाता है जिससे हम पर अपने आप दर हावी होने लग जाता है| जिसके कारण अपने आप अवजे दिमाग में आ जाती है और भूतो के चित्र बन जाते है| यही स्थति bhangarh fort को भारत और विश्व की सबसे भुतहा जगहा बना देता है|

Bhangarh fort at night

Bhangarh fort ghost videos

जबसे ये ghost places in india नाम से popular होने लगा है तबसे बहुत सारे टीवी पत्रकार आदि ghost of bhangarh fort और bhangarh ghost in photograph को फिल्माने यहाँ छुप छुपकर रात में पहुचे है लेकिन अभी तक सही bhangarh fort ghost videos का फिल्मांकन नहीं हो पाया है| कुछ न्यूज़ चेन्नल ने इलेक्ट्रो मेग्नटिक फिल्ड मापने वाले यंत्रो की सहायता से भूतो की मोजुदगी भी होने से इंकार नहीं किया है| ज्यादातर लोग जो वहा गए है उन्होंने माना है की वत्सव में यहाँ भुत प्रेत और अजीब सी शक्तियों का साया है|

Bhangarh fort ghost videos

Bhangarh horror stories in hindi

दोस्तों वेसे तो इन्टरनेट horror stories से भरा पड़ा है अगर आप सर्च करोगे तो आपको काल्पनिक horror stories के बहुत सारे लेख मिलेंगे लेकिन Bhangarh fort horror stories पुरे विश्व में प्रसिद्ध है इस करना ये टूरिस्ट का भी फेमस स्थान बनाa है| हर साल देश विदेश से हजारो यात्री इसहाँ को देखने आते है| अगर आपको भी इससे या इसी प्रकार कोई कहानी मालूम हो तो हमें कमेंटरिये बता सकते है|

bhangarh fort incidents story

भानगढ़ किले के मंदिर ( Temple of Bhangarh) :-

वेसे तो भानगढ़ किला अपनी भुतहा कहानियों के लिए प्रसिद्ध है लेकिन आपको बता दे यहाँ पर प्राचीन मंदिर भी है | यहाँ पर भगवान सोमेश्वर केशव राय, गोपीनाथ और मंगला देवी के सुन्दर मंदिर है| वेसे तो bhangard किले के ज्यादातर महल खंडहरों में तब्दील हो चुके है लेकिन इसमें जो मंदिर है वो पूरी तरहा से सही है| लेकिन ज्यादातर मंदिरों में से मुर्तिया गायब है|
Temple of Bhangarh
निचे दिया हुआ सोमेस्वर टेम्पल जहा आज भी भगवान् शिव का शिवलिंग सही अलाट में मौजूद है|
temple inside bhangarh fort

bhangarh fort incidents

अभी तक वहा भुत है या नहीं इसका लिखित प्रमाण तो किसी ने अन्हे दिया है लेकिन कहानियो की सुने तो वहा बहुत कुछ है | अहसा करते है आपको ये bhangarh fort story in hindi का पोस्ट पसंद आया होगा| अगर आपको भी bhangarh fort incidents or bhangarh fort haunted stories in hindi, history आदि के बारे कुछ बताना हो तो आप हमें कमेंट के जरिये लिख सकते है|

  •  Maa Durga images 

Bhangarh केसे पहुचे

अगर आपको Bhangarh की यात्रा करनीहै तो आप बस कार दोनों से जा सकते है इसका निकटवर्ती एअरपोर्ट जयपुर है तथा ये अलवर जिले में आता है| अलवर से आप सीधे bhangard की बस पकड़ सकते है|

Vrdict on Bhangarh fort story

आज के समय में जहा इंसान मंगल की यात्रा करने की सोच रहा है उस समय में भुत प्रेत की बाते हास्यप्रद लग सकती है लेकिन इससे भी इनकार नहीं किया जा सकता की वह कुच्छ न कुच्छ ऐसा तो जरुर है जिसके करना उसको दुनिया का सबसे भुतहा स्थान बनाया है|  हा इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता की दुनिया के हर देश में चाहे अमेरिका हो या इंग्लेंड सभी जगहा इस प्रकार के मसहुर स्थान पाए जाते है और वहा के लोग उस पर भरोषा भी करते है|