अमिताभ बच्चन हुए कोरोना निगेटिव, अस्पताल से छुट्टी | अमिताभ बच्चन ने कोरोना के लिए नकारात्मक परीक्षण किया, अस्पताल से छुट्टी दे दी

0
35

इमोशनल थे

इमोशनल थे

पिछले ही सप्ताह, आराध्या और ऐश्वर्या के ठीक साथ अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद अमिताभ बच्चन काफी भावुक हो गए थे और उन्होंने ईश्वर को और फैन्स को धन्यवाद कहा था।

पिताजी को किया था

पिताजी को किया था

अस्पताल में अमिताभ बच्चन का साथ दिया था उनके पिता की कविताओं ने। अमिताभ बच्चन ने पोस्ट कर बताया भी था कि कैसे डै की कविताओं के साथ वो अस्पताल में अपने दिन बिता रहे हैं।

लोगों को किया था धन्यवाद

लोगों को किया था धन्यवाद

अमिताभ बच्चन जब कोरोना पॉज़िटिव निकलने के बाद अस्पताल में भर्ती हुए तो पूरा देश उनके लिए प्रार्थना कर रहा था। उन्होंने ट्वीट में लिखा – मुझे एक एक को धन्यवाद दे पाना तो असंभव होगा। लेकिन जितने भी लोग अपनी दुआएं और प्रार्थनाएं भेज रहे हैं, उनका दिल से धन्यवाद।

लगता है कि अंधा हो रहा है

लगता है कि अंधा हो रहा है

अमिताभ बच्चन लॉकडाउन में सैटेलाइट पर काफी सक्रिय हो गए थे। कुछ महीने पहले ही में वे एक छोटी सी बात से परेशान हो गए और फैन्स से अपनी परेशानी भी बाँट ली। दरअसल, बच्चन साहब को लग रहा था कि वे अंधे होने वाले हैं। उन्होंने एक पोस्ट में लिखा – मेरी आंखें, चीजें धुंधली देख रही हैं। कभी कभी दो कुछ दिखता है। अब मुझे लग रहा है कि ऐसी बीमारियों की लिस्ट में मेरा अंधा होना जुड़ने वाला है।

घरेलू

घरेलू

लेकिन अमिताभ बच्चन की इस बीमारी का इलाज उनके डॉक्टर ने किया। डॉ ने आंख की दवा दी और कहा कि अंधे नहीं होंगे। कंप्यूटर के सामने ज़्यादा समय बिता रहे हैं। उसकी आंखें थक रही हैं। बच्चन साहब ने अपनी मां का मिश्रण भी अपनाया। उन्होंने गरम पानी में तौलिया गीला किया और अपनी आँखों पर रख लिया। उन्हें इससे तुरंत ही आराम मिल गया।

हैमस्ट्रिंग से जूझ रहे थे

हैमस्ट्रिंग से जूझ रहे थे

कुछ ही महीनों पहले एक पोस्ट में अमिताभ बच्चन ने अपनी सेहत को लेकर कुछ अपडेट दिए थे। अमिताभ बच्चन ने बताया था कि उनकी गर्दन, हैमस्ट्रिंग, पीठ के निचले हिस्से और कलाई में चोट थी। काफी समय से वे ऐसे ही बैठे हैं। और लिन में थे। डॉ ने उन्हें बेड रेस्ट करने की सलाह दी थी और यात्रा करने से मना कर दिया था।

बहुत मुश्किल है

बहुत मुश्किल है

अमिताभ बच्चन ने अपने एक ब्लॉग में जानकारी देते हुए बताया था कि हैमस्ट्रिंग की चोटों में चलना और बैठने में काफी परेशानी होती है।) इसके लिए लंबे समय तक सांस लेने की जरूरत होती है।

बैक टू बैक फिल्में

बैक टू बैक फिल्में

अमिताभ बच्चन के शब्दकोश में जैसे आराम नाम का शब्द ही नहीं है। आयुष्मान खुराना के साथ गुलाबो सिताबो की शूटिंग पूरी करते ही अमिताभ बच्चन, ब्रह्मास्त्र की शूटिंग करने वाली मनाली पहुंच गए थे।

ले लुन रिटेनरमेंट

ले लुन रिटेनरमेंट

मनाली पहुंचने के लिए अमिताभ बच्चन ने गाड़ी से यात्रा की थी और ट्वीट करते हुए लिखा था कि ये काफी थकाने वाला था। और उन्हें लगता है कि अब उनका शरीर इतने कष्ट के लिए खुद को तैयार नहीं कर पाता है। शायद उनके रिटायरमेंट का समय आ गया है।

लगातार काम करते रहना

लगातार काम करते रहना

गौरतलब है कि लॉकडाउन से पहले अमिताभ बच्चन लगातार काम कर रहे हैं। एक तरफ, इमरान हाशमी के साथ चेहरे की शूटिंग कर रहे थे तो वहीं अयान मुखर्जी की ब्रह्मास्त्र भी पूरी कर रहे थे।