प्रधान चक्रवर्ती ने ड्रग्स में नहीं लिया सारा अली खान का नाम | रिया चक्रवर्ती ने सर अली खान का नाम लिया वकील ने झूठ बोलने के लिए NCB को बुलाया

0
20

NCB ने मारा था छाप

NCB ने मारा था छाप

NCB ने प्रधान चक्रवर्ती और शुविक चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद उनके बयानों के आधार पर सुशांत सिंह राजपूत के पावना फॉर्महाउस पर छापा मारा। छापे में फॉर्महाउस से काफी दवाईयां, हुक्का और एश ट्रे बरामद की गई थीं।

बड़ी भागीदारी का दौर

बड़ी भागीदारी का दौर

एक रिपोर्ट के अनुसार, NCB को प्रमुख और शुविक ने अपने बयानों में बताया कि सुशांत के इस फॉर्महाउस पर काफी ड्रग्स पार्टियां होती थीं जिनमें बड़े लोग शामिल थे। इस रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि ये सारा पार्टियां उस दौर में हुआ करती थीं जब प्रधान चक्रवर्ती के बयान के मुताबिक सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन में थे। वे इस दौरान स्टेरॉयड भी लेते थे।

पहली बार गए थे शासक

पहली बार गए थे शासक

गौरतलब है कि सुशांत के इस फॉर्महाउस पर प्रधान पहले बार सुशांत से पहली मुलाकात के दो ही दिन बाद गए थे। दरअसल, प्रधान सुशांत की पहली मुलाकात अप्रैल 2019 में उनके दोस्त रोहिणी की एक पार्टी में हुई थी। इसके कुछ दिन बाद प्रधान सुशांत के कपारी हाईट्स वाले घर आईं जहां सुशांत, उनकी प्रियंका और जीजा जी, उनके पावना फॉर्महाउस जा रहे थे। प्रधान भी उनके साथ हो लीं।

वहीं रूकिन शास

वहीं रूकिन शास

प्रधान चक्रवर्ती सुशांत और उनकी बहन – जीजा जी के साथ उनके पावना फॉर्महाउस पर ही रूकीं। बाद में सुशांत उन्हें अगले दिन खुद छोड़ने वापस आया। इसी के बाद प्रधान और सुशांत के बीच दूरियां मिटीं।

खेती करना चाहते थे सुशांत

खेती करना चाहते थे सुशांत

जनवरी 2020 में सुशांत सिंह राजपूत ने अपने हाउस मैनेजर सैमुएल से कहा था कि घर का सारा सामान बेच दे क्योंकि वो पावना फार्महाउस में शिफ्ट होने वाले हैं। वहां उनके साथ केवल केशव और नीरज रहेंगे। लेकिन चूंकि सुशांत की हालत ठीक नहीं थी, सैमुएल ने उनकी बात नहीं सुनी और सामान बेचा नहीं।

दिन में कुछ दिन थे

दिन में कुछ दिन थे

उस दौरान, सैमुएल, श्रुति और शासक ये डिसकस करते थे कि सुशांत को केरल के लिए हीलिंग सेंटर में लाया जाएगा। सुशांत मान भी गए थे लेकिन अगले दिन उन्होंने कहा कि वो मीतू के साथ दिल्ली जा रहे हैं। केरल का प्लान कैंसिल हो गया।

मार्च में जाना था फॉर्महाउस

मार्च में जाना था फॉर्महाउस

सुशांत सिंह राजपूत के इस फॉर्महाउस के मैनेजर रईस ने आईएएनएस को दिए एक इंटरव्यू में बताया कि सुशांत मार्च 2020 में फॉर्महाउस आने वाले थे और तीन तीन महीने तक रह कर खेती करने वाले थे। मुंबई से ज़रूरी सामान और राशन भी भिजवा दिया गया था। लेकिन फिर सुशांत का आना कैंसिल हो गया।

शासक मिल मिल सज़ा

शासक मिल मिल सज़ा

प्रधान चक्रवर्ती को 8 सितंबर को गिरफ्तार किया गया। पहली रात उन्होंने NCB के सेल में काटी थी। सूत्रों की मानें तो रिया ने रात रात टहलकर काट दी थी। अगले दिन उन्हें भायखला जेल शिफ्ट कर दिया गया। उन्हें 21 सितंबर को छूटना था लेकिन उनकी हिरासत 6 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दी गई।

ड्रग एडिक्ट सुशांत थे

ड्रग एडिक्ट सुशांत थे

गौरतलब है कि रिया चक्रवर्ती ने अपने इंटरव्यू में कुबूल किया था कि सुशांत सिंह राजपूत बहुत बड़े ड्रग एडिक्ट थे। उन्हें मारिजुआना की लत थी और वह बहुत कोशिश करती थीं कि ये छूट छूट जाए लेकिन ऐसा नहीं पाया गया। उनकी सारी कोशिशें नाकाम थीं।

बस इतना सी धुंध है

बस इतना सी धुंध है

प्रधान के वकील सतीश मानेशिंदे पहले ही कह चुके हैं कि प्रधान चक्रवर्ती को इस देश में केवल एक ड्रग एडिक्ट से प्यार करने की सज़ा मिल रही है। प्रधान का भी कहना है कि उनके खिलाफ झूठे केस बनाए जा रहे हैं।