Copper T Side Effects Way To Use कॉपर टी प्रयोग का समय

हर शादीशुदा जोड़ा अपनी शादी के बाद यह निश्चित करते है कि कब उन्हें बच्चा चाहिए इसलिए वो अनचाही pregnancy रोकने के लिए कई तरह के विकल्प अपनाते है। वैसे तो आज के जमाने मे ऐसे कई उपाय है जैसे कंडोम का प्रयोग, गर्भ निरोधक गोलियां आदि। वेसे आज के इस भीड भाड़ वाले माहौल में हर दंपति “हम दो हमारे दो” पर ही जोर देते है इसलिए दो बच्चे होने के बाद वे अपनी सेक्स लाइफ कायम रखने के लिए गर्भ निरोधक का यूज़ करते है इसके लिए वे कई तरह के उपाय भी करते है।

अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए महिलाओं के पास हार्मोन को नष्ट करने वाली गोलियां  होती हैं और पुरूषों के पास कंडोम जैसे विकल्प होते हैं पर इनका कोई निचिंत निर्णय नहीं निकलता है यानी ये चीजें 100% safe नही है ।

इसलिए अगर आप अपनी sex life enjoy करते हुए अनचाहे प्रेग्नेंसी रोकने चाहतें है तो इसके लिये कॉपर-टी सबसे सरल और safe उपाय हैं। ये 99% कारगर हैं। ज्यादातर  डॉक्टर इसी की सलाह देते है। तो आइए आज हम आपको कॉपर-टी (coper-t) के बारे म आपको बताएंगे की ये क्या है औऱ ये कैसे काम करती और अन्य गर्भ निरोध से ये बेहतर कैसे है।

Coper-T कॉपर-टी क्या है?

कॉपर टी safe होने के कारण पिछले 50 सालों से इस्तेमाल की जा रही हैं

कॉपर टी (Coper-T) ताम्बे कि बनी होती हैं और इसका आकार T की तरह होता है इस कारण इसे कॉपर टी कहा जाता हैं। कॉपर टी ताम्बे की बनी होती हैं जिसकी बाहरी सतह पर प्लस्टिक से लिपटी होती है और इससे एक धागा जोड़ा हुआ होता है जिसकी मदद सेडॉक्टर द्वारा इसे महिलाओं के योनी मार्ग से इसे गर्भशय में लगाया जाता है।

   Copper T

कॉपर टी काम कैसे करती हैं।

कॉपर टी ताम्बे कि बनी होने के कारण ये पुरूष द्वारा छोडे गये स्पर्म को नष्ट कर देती हैं। ताम्बा मे पुरूष वीर्य के शुक्रणुओं को नष्ट करने की क्षमता पायी जाती है। अतः ये शुक्रणुओं के प्रोटीन्स को बिगाड़ देती है इस कारण इसे मादा में अन्डे को जीवित रखने की क्षमता भी नष्ट हो जाती है।

और अगर किसी कारण ये महिला के गर्भाशय में पहुंच भी जाये तो ताम्बा वहाँ पर ऐसी स्थिति बना देता है स्पर्म कुछ समय बाद अपने आप नष्ट हो जाता हैं।और गर्भ धारण भी नहीं होता है।

what is coper t

कॉपर टी कैसे डाली जाती हैं।

कॉपर टी मूलरूप से डॉक्टर द्वारा ही लगाई जाती हैं।इसके लिए डॉक्टर पहले महिला के गुप्तांग को अच्छी तरह से साफ़ कर उसे विसंक्रमित करेंगें और फिर नर्स की सहायता से महिला के योनी मार्ग से उसके गर्भाशय में डाल देंगे। ये प्रक्रिया ज्यादातर महिला डॉक्टर द्वारा ही की जाती हैं ताकि महिलाओं में कोई हिचकिचाहट न हो।

कॉपर टी use

कॉपर – टी के लाभ

  1. कॉपर – टी के कई फायदे होते हैं।अनचाहे गर्भ को रोकने लिये ये कारगर हैं।
  2. ये सस्ती भी होती हैं।इस पर ज्यादा ख़र्च भी नहीं आता हैं।
  3. कॉपर  टी 5 साल,10 साल,तक कि भी होती हैं।लम्बे समय तक रहने के कारण ये असरदार होती हैं।
  4. Pregnancy रोकने के साथ ये यौन संक्रमण को भी रोकती हैं।
  5. ताम्बे के कारण इससे गर्भाशय में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ जाती हैं, जिससे किसी प्रकार का इंफेक्शन नहीं होता हैं।

Coper-T use

कॉपर टी की जांच करना

गर्भाशय में कॉपर टी डालने के लिये जो धागा काम मे लिया जाता है,उसकी समय -समय पर जांच अनिवार्य है कि वो धागा अपनी जगह पर है या नहीं, क्योकि इसी की सहायता से  इसे गर्भाशय में डाला और बाहर निकाला जाता है । इसके लिये किसी अच्छे डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी है।

कॉपर टी लगवाने के लिए पति पत्नी की आपसी सहमति जरूर होनी चाहिए औऱ डॉक्टर की सलाह भी लेनी चाहिये। लगवाने के बाद समय समय पर डॉक्टर से जाँच भी अवश्य करवानी चाहिए। जब तक आप इसे रखना चाहते हैं रख सकते है अन्यथा किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाकर इसे निकाल सकते हैं।ये पूरी तरह से safe है।

copper-t कैसे निकाले

अगर किसी कारणवश या कॉपर टी का प्रभाव खत्म हो जाए तो copper-t बदलने के लिए उसे पहले डाली हुई copper-t को निकालना पड़ता है निकालने के लिए आप ANM जीएनएम या किसी नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें कॉपर टी निकालना थोड़ा कठिन होता है इसमें थोड़ा दर्द भी हो सकता है।

copper-t Price

दोस्तों सरकारी अस्पतालों में copper-t फ्री में मिलती है तथा बाहर भी यह मिल जाती है लेकिन बाहर मिलने वाली कॉपरटी के दाम अलग-अलग होते हैं यह सामान्य से 300 से 350 या फिर ₹500 तक मिल जाती हैं। ज्यादा जानकारी के लिए आप नजदीकी डॉक्टर से मिल सकते हैं

क्या कॉपर टी को लगाना सुरक्षित है?

बहुत सारी महिलाओं के मन में यह सवाल आता है कि को पट्टी लगाना सुरक्षित हैं इसको लगाने के बाद कोई समस्या होने के आसार तो नहीं है या फिर और भी कई प्रश्न है जो महिलाओं के मन में उठते हैं लेकिन इन प्रश्नों का उठना स्वाभाविक है क्योंकि कोई भी वस्तु जो फॉरेन बॉडी हमारे शरीर के अंदर 5 से 10 साल तक रहती हैं

अगर वह कोई आने करने लग जाए तो बहुत ही नुकसान दायक हो सकती है। दोस्तों कॉपर टी बहुत ही सुरक्षित उपाय हैं आप इसे आसानी से लगा सकते हो और उसे लगाते हुए कोई दर्द वगैरह भी नहीं होता है। कॉपरटी की सुरक्षा और सालों तक प्रभाव कॉपर टी की गुणवत्ता पर निर्भर करता है। यह शुक्राणुओं के विशेषण को रोकती है।

Translate »