Fenugreek in Hindi Methi seeds मेथी के फायदे

By | August 24, 2017

आज हम अपने इस पोस्ट में Fenugreek in Hindi  के बारे में चर्च करेंगे| हम भारतीय लोग हमेशा से मसाले दार (spices) खाने के शौकीन रहे हैं। पुराने जमाने के लोग जब चक्कियाँ नहीं थी तब भी हाथ से पीसकर मसाले तैयार करते थे। औऱ अपने भोजन में इस्तेमाल करते थे। हमारे भारतीय महिलाएं अपने खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए अनेक प्रकार के मसालो का इस्तेमाल करती हैं। जैसे:- जीरा, राई, आमचूर, धनिया, हींग Methi seeds या methi powder इत्यादि। प्रत्येक मसाले का अपना अपना महत्व हैं।

औषधीय गुणों से भरपूर मेथी का उपयोग महिलाएं सर्वाधिक रूप से करती हैं। मेथी को हम दाने के रूप में, हरी मेथी के रूप में, और पीस कर भी काम में ले सकते हैं। मेथी के पराठे, करी, थेपला आदि बहुत स्वादिष्ट होते हैं। इसकी महक तीखी होती हैं। मेथी में उच्च मात्रा में खनिज तत्त्व पाये जाते हैं जो हमारे body के लिए फायदेमंद होती हैं। इसमें विटामिन बी, आयरन, फास्पोरस, जिंक, मैगनीज आदि पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। साथ ही कडवी होने के कारण डायबिटीज रोगी के लिए ये एक रामबाण इलाज है।

Fenugreek in Hindi

Fenugreek in Hindi Methi seeds

विश्व मे सर्वाधिक मेथी भारत में उगाई जाती हैं, और अकेले राजस्थान में इसकी 60% उपज होती हैं। इसके अलावा ये उत्तर प्रदेश, मध्य्प्रदेश, गुजरात, पंजाब में भी उगाई जाती हैं। आज के fenugreek seeds in hindi के पोस्ट में हम मेथी के सेवन से होने वाली लाभ और हानियों के बारे मे बताएंगे।

1 – मेथी के फायदे
2 – मेथी की हानियाँ

सबसे पहले हम मेथी के सेवन से होने वाले लाभ के बारे में बताएंगे।

1. डायबिटीज मरीजों के लिए –

तीखी महक और कड़वाहट के कारण यह शुगर के मरीजों के लिए बहुत लाभकारी है। ये शुगर को कंट्रोल करती हैं जिससे यूरिन (पेशाब ) में शुगर का लेवल भी कम हो जाता है।

  • मेथी में पाया जाने वाला फाइबर युक्त गैलाक्टोमेनन तत्व आपके रक्त में अतिरिक्त शुगर को सोखने का काम करती हैं,
  • साथ ही कोलेस्ट्रॉल को भी कम करने में असरदार है। और रक्तचाप बढ़ने से रोकता है तथा नए इन्सुलिन बनने में मदद करता है।
  • शुगर कंट्रोल के लिए आप मेथी पाउडर को सुबह भूखे पेट पानी के साथ ले सकते हैं।
  • इसके अलावा आप रात भर 1 चम्मच मेथी दाने को पानी के साथ भिगो कर सुबह छानकर पी भी सकते हैं। इसे आप अपने भोजन में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

Note – सुबह भूखे पेट इसका इस्तेमाल करने से ये ज्यादा फायदेमंद होता है , पर गर्भवती महिलाओं इसका सेवन न करे।

        डायबिटीज में

2. Skin problem के लिए *

– anti oxident से युक्त मेथी आपके skin संबंधित problem के लिए बहुत लाभदायक है। ये एन्टीसेप्टिक का काम करती है।

  • ये दाद, मुहासों, खुजली, जली हुई त्वचा आदि को ठीक करने में असरदार हैं।
  • अंकुरित मेथी जैल की तरह काम करती है।
  • मेथी के पत्ते पीस कर उसका पेस्ट चेहरे पर लगाए।
  • एक चम्मच मेथी के दाने रात भर भिगोएं, सुबह छान लें।उसमे थोड़ा निम्बू रस और शहद मिलाकर चेहरे पर लगाएं।15-20 मिनट बाद धो लें। आप उसके पानी से चेहरा भी धो सकते हैं । ये डेथ सेल्स को हटाती है, जिससे आपके चेहरे पर निखार आता है।

Skin के लिये

3. बालों के लिए –

मेथी में पाया जाने वाला लेसीथिन (lecithin) नामक तत्त्व बालो को मुलायम और धना बनाता है। साथ ही प्रोटीन से युक्त होने के कारण ये बालों के विकास में सहायक है। ये बालों को झड़ने से रोकता है और रूसी मिटाकर नए बालो को उगाने के काम करता है।

  • मेथी के दाने रात को भिगोकर सुबह उसके पेस्ट से बालों की जड़ों में अच्छी तरह मालिश करे, आधे घंटे बाद धो लें। आप हरी मेथी का पेस्ट भी लगा सकते हैं।
  • coconut oil में मेथी का पेस्ट बनाकर लगाए। ये आपके बालों को मजबूत बनाता है।

बालों में

4. कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल करने में –

मैथी में पाया जाने वाला घुलनशील फाइबर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। कोलेस्ट्रॉल दो तरह के होते है, LDL(लॉ डेन्सिटी लिपोप्रोटीन ) और HDL(हाई डेन्सिटी लिपोप्रोटीन)। HDL को अच्छा माना जाता हैं परन्तु LDL हानिकारक होता है। ये रक्त वाहिकाओं में जमा हो जाता है जिससे Heart atteck का खतरा बढ़ता है अतः मेथी के सेवन से कोलेस्ट्रॉल नियन्त्रित होता है। इसके लिए मेथी के दाने या हरी मेथी के उपयोग करें।

* भूख बढ़ाती हैं – मेथी के उपयोग से भूख बढ़ती है। और
साथ ही पाचन शक्ति भी मजबूत होती है। ये आंतों में जलन सूजन को जल्दी ठीक करती है और कब्ज मिटाती है।

कोलेस्ट्रोल में

5. महिलाओं के लिए –

मेथी महिलाओं के लिए बहुत उपयोगी है। यदि आपको मासिक धर्म से सबंधित कोई समस्या जैसे- थकान, उल्टी आना, अनियमितता, बेचैनी आदि हो तो मेथी बहुत उपयोगी है। इसके लिए उबली हुईं मेथी के पानी भूखे पेट पीना चाहिये। इससे आपको आराम मिलता है।
प्रचुर मात्रा में एस्ट्रोजन हार्मोन होने के कारण ये breast size को बढ़ाता है।

महिलाओं breast size बढाने में

6. प्रसव पीड़ा को कम करता है –

  • मेथी के सेवन करने से गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी में आसानी होती है।
  • इसके सेवन से गर्भवती महिलाओं के गर्भासाय मार्ग में इतनी जगह हो जाती हैं कि डिलिवरी में आसानी हो। साथ ही दर्द भी कम होता है।
  • साथ ही मां के दुध को भी बढ़ाती हैं।

नोट – निश्चित मात्रा में सेवन करें, अन्यथा गर्भपात का खतरा हो सकता है। डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

प्रसव पीड़ा में

7. दर्द से आराम –

  • यदि आपके जोडों और कमर में दर्द है तो मेथी के सेवन से आपका दर्द दूर हो सकता हैं। मेथी कैल्सियम और आयरन से भरपूर होती हैं, जो बुढ़ापे में होने वाले जोड़ो, कमर और गठिया रोग से आराम दिलाती हैं।
  • सूजन भी कम करती हैं।
    इसके लिए मेथी के पानी का सुबह भूखे पेट सेवन करें।
  • साथ ही हरी मेथी को अपने भोजन में ले।
  • सर्दियों में मेथी के लड्डू बनाकर खाये।

दर्द के लिये

8. गले के लिए –

गले में कफ आदि होने पर मेथी के पाउडर में शहद और नींबू मिलाकर ले, आराम मिलेगा।

नोट – मेथी हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक है। इसे रोजाना सेवन करें साथ ही अपने भोजन में भी शामिल करें।
निश्चित मात्रा में मेथी का सेवन करें। क़्योंकि मेथी की तासीर बहुत गर्म होती हैं। अधिक मात्रा में इसके उपयोग से ये हमारे शरीर पर विपरीत प्रभाव डाल सकती है, जिससे उल्टी, दस्त हो सकते हैं। ज्यादा गर्मी में भी इसका प्रयोग न करें। सर्दी में ये ज्यादा असरदार होती हैं।

गले के लिये

Verdict on मेथी या methi seeds

दोस्तों आशा करते है आपको ये Fenugreek in Hindi का पोस्ट पसंद जरुर आया होगा अगर आपको भी methi seeds के बारे में कुछ उपयोगी बाते मालूम हो तो आप हमारा और हमारे पाठको का सहयोग मेथी के फायदे बताकर कर सकते है| इस पोस्ट में अगर कुछ methi dana benefits में हमें ज्ञात होगा तो हम जरुर बतायगे| धन्यवाद