You Are Here: Home » Health / Recipe » How to Make Green Tea Recipe in Hindi तथा 16 फायदे

How to Make Green Tea Recipe in Hindi तथा 16 फायदे

आज कल जहा भी देखो green tea recipe का बहुत चलन चल रहा है, अगर टीवी पे देखो तो वहा भी ग्रीन टी को ट्रेंड किया जा रहा है और अपनी नानी माँ हो या कोई बुजुर्ग सभी इसको पिने की सलाह दे रहे है| ऐसा क्या है लोग इतना ग्रीन टी को बढावा क्यों दे रहे है? दोस्तों ग्रीन टी वास्तव में बहुत लाभकारी है और मोटापे तो राम बाण इलाज है| इसके फायदे इतने ज्यादा है इसलिए लोग इसको काम में लेने की सलाह दे रहे है|

हम सब जानते है आजकल हेल्थ एक बहुत बड़ा इशू है अगर बिना नियम के खाना भी खाए तो मोटापा आ जाता है, और इस भागदौड़ की जिन्दंगी में अभी जिम और व्यवाम हर कोई नहीं कर सकता| इसलिए लोग पील्स और घरेलू मोटापा कम करने वाले नुक्से आपनाते है| आज उसी का एक पार्ट green tea के बारे में हम बात करते है और जानते है इसके फायदे तथा और भी कुछ|

  green tea recipe

Green Tea Recipe

दोस्तों भारत विश्व का सबसे बड़ा चाय उत्पादक देश है और भारत में चाय उगती भी बहुत और लोग पाई भी बहुत है लेकिन वो दूसरी वाली चाय पिते है, हम में से काफी लोगो ने आजतक ग्रीन चाय नहीं पी होगी| दोस्तों ग्रीन टी मोटापे के साथ बहुत साडी बीमारियों को दूर करने में हमारी सहायता करती है| इसलिए आप भी इसे डेली पी सकते है, अगर आपको ये बनानी नहीं आती है तो पढिये हमारा नेक्स्ट पेरेग्राफ|

How to make green tea in Hindi

हम रेगुलर चाय तो बड़ी असहनी से बना लेते है लेकिन इसका अभी तक ज्यादा लोगो को पता नहीं है| लेकिन घबराए नहीं ये भी बहुत ही असहनी से बनाने वाली चाय है और आप इसे पोस्ट को पूरा पड़ते पड़ते ही सिख जाओगे|

ग्रीन टी के लिए सामग्री / Ingredients for Green Tea

इसमें कुछ ज्यादा सामग्री काम में नहीं ली जाती है और अगर आप मोटापे को कम करने के लिए काम में ले रहे हो तो आप चीनी के स्थान पर सुगर फ्री भी काम में ले सकते है क्योकि ये ज्यादा फायदेमंद होती है|

  • चीनी (स्वाद अनुसार )
  • ग्रीन टी बेग
  • एक चाय लेने के लिए केतली
  • 2 कप पानी

ग्रीन टी बनाने की विधि

ये बहुत ही अशानी से बन जाती है लेकिन इसकी नार्मल चाय से थोड़ी से अलग विधि होती है :-

  1. सबसे पहले 2 या 3 कप पानी ले और उसको उबाल ले |
  2. इसके बाद एक कप उबलत हुए पानी को ले|
  3. इसके बाद ग्रीन टी बेग को कप में डालकर 2 से 3 मिनट तक वेट करे|
  4. धीरे धीरे रंग आने लग जायेगा|
  5. ग्रीन टी बेग को ज्यादा देर तक नहीं रखे वरना ज्यादा कड़वी हो सकती है|
  6. फिर आवस्यकता अनुसार छनी मिलाकर आप पी सकते है|

green tea

चाय के प्रकार

दोस्तों वेसे हम काली चाय तो रेगुलर पिटे ही है और आज हरी चाय सेहत के लिए पिटे है, लेकिन क्या आप जानते है चाय कितने प्रकार की होती है? आपक्जो बता दे की चाय दो प्रकार की हती है एक हरी और दूसरी अपना टॉपिक ग्रीन चाय :-

काली चाय – इसमें चाय की पतियों को सीधे धुप में न सुखाकर भाप में सुखाया जाता है जिससे ये काली हो जाती है| भारत में सबसे ज्यादा पिया जाना वाला पेय है|

हरी चाय – इसमें भाप में न सुखाकर सीधे दुप में सुखाते है जिससे ये कलि कम पड़ती है तथा इनका हरा सा रहता है| इसी कारन ये स्वस्थ्य के लिए इतनी लाभदायक साबित होती है|

Green Tea Benefits

Green Tea Recipe Benefits ग्रीन टी के फायदे

वेसे तो ग्रीन के बहुत सारे फायदे है लेकिन उन मेस कुछ प्रमुख ये है :-

  1. ये मोटापे के लिए बहुत ही कारगर होती है|
  2. ये पेट की चर्बी पे भी बहुत कारगर होती है|
  3. इसमें पाए जाने वाले Bioactive Compounds हेल्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद होते है|
  4. अभी रिसर्च से पता चला हैकि जो महिलाये रेगुलर ग्रीन टी पीती है उनमे कैंसर का 22% lower risk रहता है|
  5. बुडापे में आपके ब्रेन का स्वस्थ्य बनाये रखने में भी काफी मदद करती है|
  6. इसमें Antioxidants पाए जाते है वो कई प्रकार के कैंसर को रोकने का काम करते है|
  7. ये Brain Function को सही सुचारू रखने में मददगार होती है|
  8. ये Alzheimer’s and Parkinson’s रोग की सम्भावना कम करता है|
  9. ये Dental Health के लिए काफी फायदेमंद होती है|
  10. ये  Dental को इन्फेक्ट करने वाले बक्टेरिया को मारती है|
  11. इसके नियमित सेवन करने से दांत के साथ मसुडो की प्रॉब्लम भी कम होती है और शान्से ताजा लगती है|
  12. ये Diabetes की रिस्क को भी कम करती है|
  13. ये Cardiovascular Disease में भी काफी फायदेमंद साबित हो रही है|
  14. ये LDL cholesterol, cholesterol और triglycerides के लेवल को सामान्य बनाये रखने में मदद करती है| जिससे दिल की बीमारियों के लिए बहुत फयादेंमंद होटी है|
  15. खाश कर अगर कोई दिल का मरीज होता है तो वो इसको हमेशा पी सकता है और अधिक उम्र के व्यक्तियों के लिए भी जिनमे दिल की बीमारियों की सिकायत होती है वो भी इसे ले सकते है|
  16.  जिस तरह बदती हुए उम्र में चहरे की त्वचा डिली पड़ने लग जाती है और चेहरे पर झुरिया आने लग जाती है तो आप इसको ग्रीन टी की सहायता से कम कर सकते है| चहरे की झुरियो में मभी ये काफी फायदेमंद साबित होती है,

ग्रीन टी के नुकशान 

आपको बता दे ग्रीन टी के फायदे ही ही फायदे है है इसका कोई बड़ा नुक्सान वाला इफ़ेक्ट नहीं है| हा अगर आप या आपका कोई सम्बन्धी सुगर का मरीज है तो आप उसे सुगर फ्री उसे करने को कहे|

Verdict on green tea recipe

ये सबसे साधारण वाली विधि है, आजकल लोग इसको ज्यादा स्वस्थ्य वर्धक बनाने के लिये उसमे कुछ और Ingredients मिला रहे है| आप भी नविन प्रोयोगो के हिसाब से साबित नए Ingredients ऐड कर सकते है| अगर आपके पास कोई और नविन विधि हो तो हमें जरुर बताये | अगर आपको ये पोस्ट पसंद आये तो लिखे और शेयर करे|

Like This, Share This...

Be the first to write a comment.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *