SP full form जानिये पूरी जानकारी

दोस्तों कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए पुलिस विभाग में बहुत सारे पद होते हैं। इन पदों में कांस्टेबल सिपाही थानेदार इंस्पेक्टर सब इंस्पेक्टर आईजी डीआईजी एसएसपी आदि होते है। आज हम अपनी इस पोस्ट में एसपी के बारे में जानेंगे कि SP full form, एसपी के क्या काम होते हैं।

उनका क्या पॉवर होता है उनकी रिस्पांसिबिलिटी क्या होती है वो कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए क्या-क्या करते हैं उनकी ड्यूटी टाइम क्या है और भी कहीं जुड़े फैक्ट जो एसपी के बारे में आज हम इस पोस्ट में जानेंगे।

एसपी SP

किसी भी जिले में पुलिस बल का प्रमुख एसपी होता है। जबकि बडे महानगरों में पुलिस बल मुख्याधिकारी Deputy Commissioner of Police (DCP) होता है जिन्हें पुलिस उपायुक्त कहा जाता है।

मुख्यतया पुलिस अधीक्षक इंडियन पुलिस सेवा के ही अधिकारी होते हैं। आप इन को उनके कंधे पर लगे स्टार और अशोक चक्र के के द्वारा आसानी से पहचान सकते हो। जो निम्न प्रकार है

SP full form

एसपी फुल फॉर्म SP full form

एसपी फुल फॉर्म सुपरीडेंट ऑफ पुलिस SP full form Superintendent of police (India) होता है तथा एसपी फुल फॉर्म इन हिंदी SP full form in Hindi पुलिस अधीक्षक होता है। इनको आप कंधे पर लगी अशोक स्तंभ और एक सितारा लगा होने पर पहचान कर सकते हो।

Superintendent of police  भारतीय पुलिस सेवा का अधिकारी है जो ग्रामीण और शहर क्षेत्र में कानून व्यवस्था सुचारू रूप से\ बनाए रखने के लिए जिम्मेदार है। हालांकि एसपी साहब हर जगह जाकर नहीं देखते है,

वो खाली उन्ही स्थानों पर जाते है जहां पर उनके नीचे दर्जे वाले अधिकारियों से बात बनती नहीं हो। इस प्रकार उनका मुख्य काम अपने निम्न अधिकारियों को कमांड करना है अगर व्यवस्था में कुछ गड़बड़ पायी जाती है तो थाना अधिकारी को लाइन हाजिर भी करवाता है।

एसपी की शक्तियां SP Power

अगर शक्तियां की बात करें तो एसपी का पद बहुत ही पॉवरफुल होता है यह ग्रामीण और शहरी दो अलग अलग सिस्टम में होता है। ग्रामीण एसपी गांव की कानून व्यवस्था को देखता है तथा सिटी एसपी सिटी की पुलिस राजस्थान को देखने का काम करता है। इनके मुख्या काम निम्न है :-

  1. सिपाही से लेकर सब इंस्पेक्टर के पदों किसी नियुक्ति करना
  2. ग्रेड 4 तथा अन्य सहित मंत्री के लिए नियुक्ति प्राधिकरण करना
  3. कांस्टेबल से उप निरीक्षक तक के कर्मचारियों की आवश्यकता अनुसार छुट्टी भी देना।
  4. सभी कर्मचारियों के कार्य का ब्यौरा लेना।

सामान्य काम

  • अगर जनता कोई रैली या प्रदर्शन करना चाहती है इसके लिए भी वह लाइसेंस देते हैं
  • लाइसेंस देने से पहले शांतिपूर्ण काम करने को पाबंद किया जाता है।
  • ग्रामीण और शहर के परिवहन व्यवस्था को सुदृढ़ बनाना।
  • अगर कोई घटना घटित होती है तो घटना की जांच के लिए अधिकारी या कांस्टेबल आदि का को नियुक्त करना
  • जिले में अपराध को हटाना तथा नागरिकों को शिक्षा प्रदान करना।

Verdict

आशा करते हैं आपको यह पोस्ट जो एसपी फुल फॉर्म के बारे में है आपको पसंद आया होगा। अगर इस पोस्ट के सुधार में आपको सुझाव है तो आप हमें कॉमेंट के द्वारा बता सकते हैं।

अगर कोई जानकारी जो आपको पूछनी है और हमारी इस पोस्ट में नहीं है तो आप हमें कॉमेंट के द्वारा हो सकते हैं हम आपको कमेंट यह प्रश्न का जवाब कुछ इस समय में देने की पूर्ण कोशिश करेंगे

2 Comments

  1. Vinita Sharma March 5, 2019
    • Hindi Gagan March 5, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »